Maruti 800 Price: देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुती सुझुकी इंडिया लिमिटेड ने (Maruti Suzuki India Limited) 40 साल की लंबी दूरी तय कर चुकी है। मारुति 800 से शुरू हुआ सफर अब 18 मॉडलों तक पहुंच गया है।

इसमें मारुति एरिना डीलरशिप पर 10 मॉडल शामिल हैं, जिनमें ऑल्टो के10, ऑल्टो, ब्रेज़ा, सेलेरियो, डिज़र, इको, अर्टिगा, एस-प्रेसो, स्विफ्ट और वैगनआर शामिल हैं। वहीं, Nexon डीलरशिप में 6 मॉडल्स में Grand Vitara, XL6, Ignis, Baleno, Ciaz और S-Cross शामिल हैं।

कंपनी के 40 साल पूरे होने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने भी इस कंपनी से जुड़े एक कार्यक्रम में शिरकत की.उपस्थित थे।  मारुति का नया कदम अब इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट की तरफ है।

इसके लिए कंपनी 10 हजार करोड़ का निवेश भी करने जा रही है। जापानी कार निर्माता सुजुकी ने मारुति उद्योग के साथ मिलकर भारत में एक कार कंपनी लॉन्च की। इसकी स्थापना 1920 में जापान के एक छोटे से शहर में हुई थी।

सुजुकी की स्थापना मिचियो सुजुकी ने की थी। उन्होंने वास्तव में करघे (SuzukiLoom Works) का कारोबार किया 1959 में, एक सस्ती और छोटी कार का विचार पहली बार नेहरू कैबिनेट मंत्री मनुभाई शाह ने सुझाया था।
इसके बाद यह अवधारणा एलके झा की अध्यक्षता वाली एक समिति तक पहुंची, लेकिन यह 1980 तक अमल में नहीं आई।

मारुति ने भारतीय बाजार में अपनी मारुति 800 कार को 1983 में लॉन्च किया था। कंपनी ने 800 मॉडल की कीमत 48,000 रुपये रखी थी।

इसकी ऑन रोड कीमत करीब 52,500 रुपये थी। इस कार में 796cc का पेट्रोल इंजन दिया गया है। मारुति 800 वह कार थी जिसकी टॉप स्पीड मीटर तक जाती थी।

कार 140 किमी/घंटा की शीर्ष गति तक पहुंच सकती है और इसकी शीर्ष गति 144 किमी/घंटा दर्ज की गई है।मारुति 800 भारत में मारुति की फैक्ट्री से निकलने वाली पहली कार थी।

करीब 20 हजार लोगों ने कार बुक कराई थी, लेकिन लॉटरी ड्रॉ के जरिए दिल्ली के हरपाल सिंह का नाम सामने आया।

मारुति 800 फ्रंट व्हील ड्राइव के साथ आने वाली भारत की पहली कार थी। इसके पहले मालिक हरपाल सिंह थे।

14 दिसंबर 1983 को, उन्हें भारत की प्रधान मंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी द्वारा कार की चाबी दी गई थी। मारुति 800 देश की पहली मल्टी-फीचर्ड कार बन गई है।

इसमें एयर कंडीशनर भी मिलता है। 2013 में जहां मारुति 800 ने 20754 यूनिट्स बेचीं, वहीं टाटा 18,447 नैनो ही बेच सके । मारुति 800 की शान आज भी बरकरार है।

कराची एंटी-कार लिफ्टिंग सेल यूनिट के अनुसार, इसे पाकिस्तान में सबसे ज्यादा चोरी की जाने वाली कार के रूप में जाना जाता है। पाकिस्तान में इसे सुजुकी मेहरान के नाम से जाना जाता था।

मारुति 800 सचिन तेंदुलकर सहित कुछ मशहूर हस्तियों के स्वामित्व वाली पहली कार थी। इसके अलावा शाहरुख खान ने एक मारुति 800 भी खरीदी। 2014 में मारुति 800 को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.