Paying Bank Cheque : शायद बहुत से लोग ऑनलाइन (Online payment) भुगतान करते हैं। लेकिन, कभी-कभी बहुत से लोग चेक  (Bank Cheque) का उपयोग करते हैं।

चेक से भुगतान (Pay by check) करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। नहीं तो जेल (Jail) जाना पड़ेगा। आइए जानें कि वे क्या हैं।

चेक से भुगतान करते समय सावधान रहें चेक से भुगतान करते समय भी आपको बेहद सावधान रहने की जरूरत है। अगर आपके चेक में कोई गलती हुई है तो आपका चेक बाउंस (Check bounce) भी हो सकता है, जिससे आपको पेनल्टी का सामना करना पड़ सकता है।

आपको जुर्माना और जेल भी हो सकती है। ऐसे में आपके लिए यह जानना भी जरूरी है कि आपका चेक बाउंस क्यों हो सकता है।

चेक बाउंस होने के ये कारण हो सकते हैं चेक बाउंस होने के कई कारण हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आपके खाते में शेष राशि कम है या मौजूद नहीं है, तो चेक बाउंस भी हो सकता है। इसके अलावा, हस्ताक्षर में बदलाव, शब्दों का गलत लेखन, खाता संख्या का गलत लेखन, ओवरराइटिंग जैसी समस्याएं भी चेक को रद्द करने का कारण बन सकती हैं।

इसके अलावा, समय सीमा समाप्त होने, चेकर के खाते को बंद करने, नकली चेक का संदेह, चेक पर कंपनी की मुहर की कमी, और ओवरड्राफ्ट सीमा पार होने के कारण चेक बाउंस हो सकता है।

चेक बाउंस होने पर यह कार्रवाई की जा सकती है।चेक बाउंस होने पर बैंक अपने ग्राहकों से पेनल्टी वसूलते हैं। यह जुर्माना कारणों के आधार पर भिन्न हो सकता है। जुर्माना 150 रुपये से 750 रुपये या 800 रुपये तक हो सकता है। चेक बाउंस होना अपराध माना जाता है।

साथ ही चेक बाउंस होने पर उस व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है। उसे या तो कारावास से दंडित किया जाएगा या चेक में जमा राशि का दोगुना जुर्माना लगाया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *