भारत के हजारो निवेशक लंबे समय से LIC के IPO का इंतजार कर रहे हैं।

एक महीने पहले ऐसी खबरें आई थीं कि चालू वित्त वर्ष में LIC के IPO की खबर आने की संभावना नहीं है।

हालांकि, LIC (जीवन बीमा निगम) जनवरी के तीसरे सप्ताह SEBI में अपने प्रस्तावित IPO के लिए सेबी को एक मसौदा पत्र (आवेदन) जमा कर सकता है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, LIC के अधिकारियों ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स से बातचीत में इस बात के संकेत दिए हैं।

वित्त मंत्रालय ने पिछले महीने कहा था कि LIC के IPO को वर्ष 2022 के अंत से पहले लिस्ट किया जाएगा।

1 लाख करोड़ का आईपीओ सबसे ख़ास बात यह है कि LIC का IPO 1 लाख करोड़ रुपये का होगा। माना जा रहा है कि LIC का IPO भारत का अब तक का सबसे बड़ा IPO होगा।

LIC के अधिकारियों ने निवेशकों को बताया कि कंपनी पेंशन, स्वास्थ्य बीमा और यूलिप जैसे उत्पादों पर ध्यान केंद्रित कर रही है।यह कंपनी के पोर्टफोलियो में विविधता लाने की योजना के तहत किया जा रहा है।

अधिकारियों ने क्या कहा?

अधिकारियों ने कहा कि कंपनी का अगला फोकस बैंकएश्योरेंस जैसे उत्पादों पर होगा। कंपनी उत्पाद में अपनी भागीदारी बढ़ाने की कोशिश कर रही है, अधिक से अधिक भागीदारों के साथ समझौते किए जा रहे हैं। LIC के लिस्टिंग के के बाद मार्केट कैप के मामले में यह देश की सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी।

10 प्रतिशत पॉलिसीधारकों के लिए आरक्षित इस साल फरवरी में अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि LIC का IPO साल 2021-2022 में आएगा।

सरकार द्वारा बनाई गई योजना के अनुसार, एलआईसी अपने पॉलिसीधारकों के लिए IPO इश्यू के आकार के 10% तक आरक्षित होगा।

बस उनके पास डीमैट अकाउंट होना चाहिए और पैन कार्ड और आधार लिंक होने चाहिए।

Leave a comment

Your email address will not be published.