Pune Aurangabad Expressway : अगर हम देश के विकास को बढ़ावा देना चाहते हैं, तो देश में पहले राजमार्गों का निर्माण करना महत्वपूर्ण है। किसी भी विकसित देश में हाईवे यानी संचार व्यवस्था उस देश में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

केंद्र सरकार ने इसी को ध्यान में रखते हुए भारतमाला परियोजना की योजना बनाई। इस परियोजना के तहत देशभर में करीब तीन हजार किलोमीटर सड़कों का मजबूत नेटवर्क तैयार किया जाएगा। इसमें सबसे ज्यादा हाईवे महाराष्ट्र में भी बनने जा रहे हैं। इससे निश्चित रूप से महाराष्ट्र के विकास को गति मिलेगी।

भारतमाला परियोजना के तहत महाराष्ट्र में पुणे अहमदनगर औरंगाबाद एक्सप्रेस-वे भी बनने जा रहा है। यह राजमार्ग महाराष्ट्र के दो हिस्सों अर्थात् पश्चिम महाराष्ट्र और मराठवाड़ा को जोड़ेगा। इससे राज्य में कृषि क्षेत्र के साथ-साथ उद्योग को भी नया मोड़ मिलेगा और इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। इसी बीच इस हाईवे को लेकर एक अहम अपडेट आई है।

इस अपडेट के बाद उक्त हाईवे को लेकर चल रहा हंगामा अब सुलझ जाएगा। दरअसल केंद्र सरकार ने इस हाईवे के लिए गजट जारी कर दिया है। इस राजपत्र के कारण अब यह स्पष्ट हो गया है कि उक्त राजमार्ग को संरेखण विकल्प 3 के साथ किया जाएगा जो वर्तमान में प्रस्तावित है। इसमें कुछ बदलाव किए गए हैं। लेकिन अहम बात यह है कि उक्त हाईवे का निर्माण अब वर्तमान में प्रस्तावित एलाइनमेंट विकल्प 3 के अनुसार होने जा रहा है|

केंद्र सरकार द्वारा जारी सरकारी गजट में औरंगाबाद जिले के उन गांवों के नाम बताए गए हैं, जिनसे होकर यह हाईवे गुजरेगा| दरअसल पुणे के जिलाधिकारी द्वारा पहले भी संबंधित गांवों के नाम प्रकाशित किए जा चुके हैं और वहां भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है| अब औरंगाबाद जिले के औरंगाबाद और पैठण तालुकों के संबंधित राजमार्गों में गांवों के नाम प्रकाशित किए गए हैं।

इसके अनुसार 1) पीरवाड़ी 2) हीरापुर 3) सुंदरवाड़ी 4) ज़ल्टा 5) औरंगाबाद तालुक में अडगाँव के 6) चिंचोली 7) गाँव से घरदों और पैठन तालुका से भी 1) वरवंडी खुदर 2) परगाँव 3) डोनगाँव 4) बालानगर 5) कापूसवाड़ी 6) वडाला 7) वावा 8) वरुडी बाइक 9) पचलगाँव 10) नारायणगाँव 11) करंजखेड़ा 12) अखाड़ अखवाड़ा 13) वाघाड़ी 14) डडेगांव जहांगीर 15) पटेगांव 16) सैगांव 17) पैठान (MC-1) यह हाईवे इसी गांव से होकर गुजरेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *