Panjabrao Dakh : साथियों, इस साल खरीफ सीजन में हुई बारिश से किसानों को भारी नुकसान हुआ है| उनकी इस मनमानी से किसानों के हाथ में खरीफ सीजन पूरी तरह बर्बाद हो गया है। एक तस्वीर है कि, खरीफ सीजन के दौरान बारिश के उतार-चढ़ाव से किसानों को बहुत मूल्यवान आय होगी।

इस बीच, राज्य में किसान रबी सीजन की बुवाई में व्यस्त हैं और कुछ जगहों पर खरीफ सीजन की कटाई भी चल रही है| ऐसे में एक बार फिर किसान बारिश की चपेट में आ सकते हैं| पंजाबराव दख ने एक बार फिर राज्य में बेमौसम बारिश की संभावना जताई है।

पंजाबराव दख द्वारा पूर्वानुमानित संशोधित मौसम पूर्वानुमान के अनुसार, नवंबर के महीने में राज्य के अधिकांश जिलों में बारिश की संभावना है। 14 नवंबर से प्रदेश में बारिश के लिए अनुकूल माहौल बन रहा है। पंजाब राव ने चौंकाने वाली भविष्यवाणी की है कि, 14 नवंबर से शुरू होने वाली बेमौसम बारिश 22 नवंबर तक जारी रहेगी।

इससे रबी सीजन की फसलों की बुवाई की तैयारी कर रहे किसानों के चेहरे पर चिंता जरूर है।इस बीच राज्य के ज्यादातर किसान सोयाबीन, कपास आदि खरीफ फसलों की कटाई कर रहे हैं। ऐसे में किसानों के लिए अपनी कृषि उपज को सुरक्षित जगह पर रखना बेहद जरूरी होगा।

साथियों, चूंकि प्रदेश में 14 नवंबर से 22 नवंबर तक बारिश होने की संभावना है, इसलिए किसान अपनी खरीफ फसलों को कटाई के बाद सुरक्षित स्थान पर रख दें| किसान भी अपने पशुओं को सुरक्षित स्थान पर व्यवस्थित करें। साथ ही रबी सीजन के लिए फसलों की बुवाई के उद्देश्य से किसानों के लिए बीज और उर्वरकों के भंडार को सुरक्षित स्थान पर रखना बेहद जरूरी होगा।

खरीफ सीजन में हुई उतार-चढ़ाव भारी बारिश से किसानों को जो नुकसान हुआ है, साथ ही कुछ नुकसान रबी सीजन की शुरुआत में देखा जा सकता है|जाहिर है कि, इस साल बारिश किसानों को पीछे नहीं छोड़ रही है| खरीफ सीजन में बारिश से किसानों को भारी नुकसान हुआ है, ऐसे में किसान अब खरीफ सीजन में हुए नुकसान की भरपाई के लिए रबी सीजन की ओर रुख कर रहे हैं, लेकिन बारिश एक बार फिर लौटने वाली है| इससे किसानों का सिरदर्द स्वाभाविक रूप से बढ़ रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *