Soybean Bajarbhav : सोयाबीन किसानों के लिए एक बहुत ही खुशखबरी सामने आई है| मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के प्रमुख सोयाबीन उत्पादक राज्यों में सोयाबीन की कीमतों में भारी वृद्धि देखी गई है। मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में भारत के कुल सोयाबीन उत्पादन का शेर का हिस्सा है।

जाहिर है, इन दोनों राज्यों के अधिकांश किसानों की पूरी अर्थव्यवस्था नकदी फसल के रूप में सोयाबीन पर निर्भर है। इस बीच इन दोनों राज्यों के सोयाबीन किसानों के लिए एक बड़ी खुशखबरी आई है कि सोयाबीन के बाजार भाव में काफी तेजी आई है| मध्य प्रदेश में सोयाबीन का अधिकतम बाजार भाव 6900 रुपये प्रति क्विंटल है।

यहां महाराष्ट्र में सोयाबीन का अधिकतम बाजार भाव 7800 रुपये प्रति क्विंटल है। इससे सोयाबीन के किसान खुश नहीं हैं। निश्चित रूप से पूरे सीजन से दबाव में रहा सोयाबीन बाजार भाव अब बढ़ रहा है, ऐसे में किसानों के चेहरे पर संतोष दिख रहा है| इस बीच कृषि क्षेत्र के कुछ जानकारों ने आने वाले दिनों में सोयाबीन के भाव में और तेजी आने की संभावना जताई है।

महाराष्ट्र में इस समय सोयाबीन की कीमतों में भारी उछाल देखने को मिला है। बिजवई के सोयाबीन के भाव में करीब दो हजार रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी हुई है| एक मीडिया रिपोर्ट में किए गए दावे के मुताबिक सतारा में बीजेवी सोयाबीन का अधिकतम बाजार भाव 7,800 रुपये प्रति क्विंटल और न्यूनतम बाजार भाव 5,300 रुपये प्रति क्विंटल रहा|

बाजार में इस तस्वीर को देखकर जानकार लोगों ने कहा है कि सोयाबीन का बाजार भाव जल्द ही 8,000 रुपये प्रति क्विंटल से ज्यादा हो जाएगा| निश्चित तौर पर सोयाबीन के बाजार भाव में यह बढ़ोतरी किसानों के लिए फायदेमंद साबित हो रही है| इस बीच, किसानों के अनुसार बिजवाई के सोयाबीन को बाजार में अच्छी कीमत मिल रही है, लेकिन वर्तमान में पिसी हुई सोयाबीन की कीमत अभी भी बहुत कम है। लेकिन बिजवाई की सोयाबीन की अच्छी कीमत मिल रही है, इसलिए किसानों को उम्मीद है कि भविष्य में मिल के सोयाबीन को भी अच्छी कीमत मिलेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *