Pm Kisan Yojana : भारत में किसानों (Farmer) की बेहतरी के लिए सरकार (Government) ने किसानों के लाभ के लिए कई योजनाएं लागू की हैं। इसमें केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना (Farmer Scheme) पीएम किसान सम्मान निधि योजना (Yojana) भी शामिल है। दोस्तों, हम यहां आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि, 2014 में सत्ता में आई मोदी सरकार (Government Scheme) ने इस महत्वाकांक्षी योजना को साल 2018 में लॉन्च किया है|

इस योजना के तहत पीएम किसान सम्मान निधि के तहत पात्र किसानों के खाते में सालाना छह हजार रुपये भेजे जाते हैं। ये छह हजार रुपये किसान भाइयों को कुल तीन किस्तों में दिए जाते हैं। यानी किसानों को एक साल में दो हजार रुपये की तीन किस्तें मिलती हैं। इस योजना के तहत अब तक किसानों को कुल ग्यारह किश्तें मिल चुकी हैं। इस बीच देश के करोड़ों किसान इस योजना के बारहवें चरण का इंतजार कर रहे हैं।

साथियों, हम आपकी जानकारी के लिए यहां बताना चाहेंगे कि, इस योजना से हमारे राज्य के करीब एक करोड़ पांच लाख किसान लाभान्वित हो रहे हैं। ऐसे में यह योजना हमारे राज्य के लिए भी एक महत्वपूर्ण किसान कल्याण योजना बन गई है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना (Pm Kisan Sanman Nidhi Yojana) के शुभारंभ के बाद से केंद्र सरकार के माध्यम से इस योजना में कई आमूलचूल परिवर्तन भी किए गए हैं।

साथियों, दरअसल इसी बीच एक चौंकाने वाला तथ्य सामने आया कि कई अपात्र किसान भी इस योजना से लाभान्वित हुए हैं। इसी के तहत मेबाप सरकार ऐसे किसानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर उनसे इस योजना का पैसा वसूल कर रही है| इसके अलावा, अब इस योजना के लिए ई-केवाईसी भी अनिवार्य कर दिया गया है। साथियों, केंद्र सरकार ने ई-केवाईसी के लिए 31 अगस्त की तारीख तय कर दी थी। लेकिन जिन किसानों ने अभी तक केवाईसी नहीं किया है, उनके लिए माईबैप सरकार ने ई-केवाईसी प्रक्रिया जारी रखी है।

पिछले साल आ गई 9 अगस्त की किस्त !

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की किस्त पिछले साल 9 अगस्त को मिली थी| इस साल 19 सितंबर के बाद भी किसानों को बारहवीं किश्त नहीं मिली है| ऐसे में किसान परेशान हैं। हालांकि सरकारी अधिकारियों का कहना है कि,इस योजना में आने वाली बाधाओं को ध्यान में रखते हुए ई-केवाईसी को अनिवार्य कर दिया गया है। किसान अभी भी पीएम किसान पोर्टल पर जाकर ई-केवाईसी कर सकते हैं।

ई-केवाईसी करने के बाद सरकार स्तर से इसका सत्यापन किया जाएगा और किश्त किसान के खाते में दोबारा पहुंचनी शुरू हो जाएगी। सत्यापन के चलते PM किसान की 12वीं किस्त में थोड़ी देरी हुई है। इस बीच मीडिया रिपोर्ट में किए गए दावे की मानें तो सितंबर के अंत तक पात्र किसानों को इस योजना की बारहवीं किस्त का भुगतान शुरू हो जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.