50 Hajar Protsahan Anudan : प्रोत्साहन सब्सिडी (Subsidy) का मामला पिछले कुछ दिनों से सुर्खियों में है। किसान (Farmer) बांध से लेकर मंत्री के एसी कार्यालय तक हर जगह प्रोत्साहन सब्सिडी (Anudan) की चर्चा हो रही है।

इस बीच, महात्मा फुले शेतकारी कर्जमुक्ति योजना (Yojana) की पहली सूची में शामिल साढ़े आठ लाख किसानों में से मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे द्वारा कल सात लाख किसानों को प्रोत्साहन सब्सिडी (Farmer Scheme) का वितरण किया गया है|

इस समय यह बात सामने आई है कि, पहली सूची में शामिल सात लाख किसानों को 2500 करोड़ रुपये की सहायता मिली है| इस बीच किसानों का ध्यान अब इस बात पर है कि प्रोत्साहन सब्सिडी की दूसरी सूची कब सार्वजनिक की जाएगी। दोस्तों, हम यहां आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि, प्रोत्साहन सब्सिडी की घोषणा ठाकरे सरकार के कार्यकाल के दौरान की गई थी। लेकिन ठाकरे सरकार के दौरान इसे लागू नहीं किया गया था।

अंत में, ठाकरे सरकार गिर गई और राज्य में नई शिंदे (Eknath Shinde) सरकार का उदय हुआ और नई शिंदे सरकार ने पिछले ढाई साल से रुका हुआ प्रोत्साहन सब्सिडी का मुद्दा साफ कर दिया| शिंदे सरकार ने तीन साल 2017-18, 2018-19, 2019-2020 में से कम से कम 2 साल के लिए नियमित फसल ऋण चुकाने वाले किसानों को सब्सिडी के रूप में पचास हजार रुपये तक की सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया है। आखिरकार इस फैसले पर अमल भी शुरू हो गया है।

जिन किसान भाइयों का नाम पहली सूची में था और जिनका आधार सत्यापन सूची में किया गया था, उन्हें भी अब इस योजना के तहत सब्सिडी राशि मिल गई है। इससे अब सभी का ध्यान इस बात पर है कि इस योजना के तहत पात्र या लाभार्थी किसान भाइयों की दूसरी सूची कब सार्वजनिक की जाएगी।

इस बीच मीडिया रिपोर्ट में किए गए दावे के मुताबिक दूसरी सूची में करीब दस लाख किसानों के नाम शामिल होंगे| इन किसानों के लिए सरकार 5000 करोड़ रुपये की सब्सिडी देने जा रही है। सूत्रों के अनुसार अनुदानों की दूसरी सूची 26 या 27 तारीख को प्रकाशित हो सकती है। ऐसे में यह देखना बाकी है कि, क्या इसी तारीख को दूसरी सूची प्रकाशित होती है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *