Agriculture News : दिवाली महोत्सव (Diwali Festival) आज से शुरू होने जा रहा है। ऐसे में शिंदे सरकार की ओर से दिवाली की शुरुआत में किसानों (Farmer) को बड़ा तोहफा दिया गया है| दोस्तों, जैसा कि आप जानते हैं पिछले कुछ दिनों से प्रोत्साहन अनुदान (50 Hajar Protsahan Anudan) का मुद्दा उठाया गया था। दरअसल, प्रोत्साहन अनुदान पिछले ढाई साल से लंबित था।

प्रोत्साहन सब्सिडी (Subsidy) के वर्गीकरण को लेकर सरकार द्वारा समय-समय पर तारीखों की घोषणा की गई, लेकिन इसे लागू करने का समय नहीं मिला। लेकिन अब असल में इस योजना पर अमल शुरू हो गया है| महाविकास अघाड़ी सरकार (Mahavikas Aghadi Sarkar) में घोषित अनुदान (Anudan) का लाभ अब शिंदे सरकार के कार्यकाल में किसानों को दिया गया है।

साथियों, हम आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि महा विकास अघाड़ी सरकार ने सत्ता में आने के बाद सबसे पहले महात्मा फुले शेतकारी ऋण मुक्ति योजना के तहत राज्य के किसानों का दो लाख तक का कर्ज माफ किया। उस समय, सरकार ने उन किसानों को राहत देने का भी फैसला किया, जिनके पास नियमित रूप से ऋण चुकौती थी।

इसी के अनुरूप तत्कालीन शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार ने नियमित कर्ज चुकाने वाले किसानों को 50 हजार रुपये तक की प्रोत्साहन सब्सिडी देने का ऐतिहासिक फैसला लिया। हालांकि, उक्त निर्णय को लागू करने के लिए महाविकास अघाड़ी सरकार को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। अंत में, महाविकास अघाड़ी सरकार गिर गई और शिंदे सरकार राज्य में आ गई। सत्ता में आने के बाद शिंदे सरकार ने पिछली महाविकास अघाड़ी सरकार के अधिकांश फैसलों को रद्द करने का प्रयास किया।

लेकिन किसानों के हित में प्रोत्साहन सब्सिडी का फैसला जैसे का वैसे रखा गया| इस बीच प्रोत्साहन अनुदान के पात्र लाभार्थी किसान भाइयों की पहली सूची भी सार्वजनिक कर दी गई है और पहली सूची में आधार सत्यापित करने वाले लगभग 7 लाख 80 हजार किसान भाइयों को मुख्यमंत्री द्वारा कल 50 हजार रुपये तक की प्रोत्साहन सब्सिडी वितरित की गई है| एकनाथ शिंदे सरकार ने राज्य में नियमित ऋण चुका रहे सात लाख 80 हजार किसानों को करीब 2500 करोड़ रुपये की सहायता दी है|

निश्चित रूप से शिंदे सरकार द्वारा दिवाली की पृष्ठभूमि में लिया गया यह निर्णय राज्य के लाखों किसानों के लिए फायदेमंद होगा। इसके अलावा शिंदे सरकार ने एक और अहम फैसला लिया है और इसकी जानकारी खुद एकनाथ शिंदे ने कल हुई कैबिनेट बैठक में दी| एकनाथ शिंदे ने कल कैबिनेट बैठक में अहम ऐलान किया कि, भुविकास बैंक से कर्ज (Bhuvikas Bank Loan) लेने वाले किसानों का कर्ज माफ कर दिया गया है|

मुख्यमंत्री ने जानकारी दी है कि, करीब 964 करोड़ रुपये माफ कर दिए गए हैं| इसके अलावा मुख्यमंत्री ने इस बैठक में यह भी कहा कि, भारी बारिश से किसान घबराएं नहीं| इस मौके पर एकनाथ शिंदे ने यह भी बताया कि, बारिश की वापसी से हुए नुकसान से प्रभावित किसानों को पर्याप्त सहायता मुहैया कराने के लिए प्रशासन स्तर पर युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है| महाराष्ट्र समेत पूरे भारत में आज से दिवाली का सीजन शुरू होने जा रहा है। ऐसे में शिंदे (Eknath Shinde) सरकार का यह फैसला बलिराजा की दिवाली को मीठा बनाने वाला है|

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *