State Employee News : महाराष्ट्र राज्य सरकार में कार्यरत राज्य कर्मचारियों के लिए एक अच्छी खबर आ रही है। दरअसल, पिछले कई वर्षों से सरकार राज्य कर्मचारियों से पुरानी पेंशन योजना जैसी विभिन्न मांगों को लेकर इनाम समिति की सिफारिशों को मान रही है.इस बीच एक तस्वीर यह भी है कि राज्य कर्मचारियों का पीछा जल्द ही सफल होगा।

दरअसल, बख्शी कमेटी की सिफारिश के मुताबिक राज्य कर्मचारियों को वेतन वृद्धि देने का प्रस्ताव राज्य सरकार के पास विचाराधीन है और एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि इस पर जल्द ही सकारात्मक रूप से विचार किया जाएगा.

निश्चित तौर पर अगर बख्शी कमेटी की सिफारिशें लागू होती हैं तो कर्मचारियों के वेतन में भारी इजाफा होगा और राज्य सरकार के खजाने पर करीब 240 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा.इस निर्णय से छठे वेतन आयोग के तहत वेतन आहरित करने वाले कर्मचारियों के वेतन की असमानता दूर होगी और सातवें वेतन आयोग के तहत वेतन आहरित करने वाले कर्मचारियों को भी इसका लाभ मिलेगा.

इसके अलावा 5400 से अधिक ग्रेड पे वाले राज्य कर्मचारियों को लेकर भी बड़ा फैसला होने की संभावना है। दरअसल ऐसे कर्मचारियों को केंद्र सरकार की तर्ज पर तीन सुनिश्चित प्रोन्नति का लाभ दिया जाने वाला है. यानी इन कर्मचारियों को भी अन्य कर्मचारियों की तरह प्रमोशन का लाभ मिलेगा. इस बीच उक्त मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि इस मांग पर भी जल्द ही मुहर लग जाएगी.

निश्चित रूप से बख्शी समिति की रिपोर्ट को राज्य सरकार ने मान लिया तो राज्य के अधिकांश संवर्गों में जहां वेतन असमानता है, वेतन अंतर समाप्त हो जाएगा। बख्शी कमेटी की रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि राज्य में कुल 200 संवर्गों में कर्मचारियों के वेतन में असमानता है।

इन कुल 122 संवर्गों में से बख्शी समिति ने वेतन अंतर को दूर करने का प्रस्ताव दिया है। निश्चित रूप से समिति के प्रस्ताव के स्वीकृत होने के बाद राज्य सरकार के खजाने पर भार पड़ेगा, लेकिन इससे राज्य कर्मचारियों की वित्तीय समस्याओं का कहीं न कहीं समाधान हो सकेगा.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *