Agriculture News : भारत एक कृषि प्रधान देश है। देश की अधिकांश जनसंख्या कृषि पर आधारित है। ऐसे में केंद्र सरकार किसानों के लिए तरह-तरह की योजनाएं लेकर आती है। केंद्र सरकार के माध्यम से पीएम किसान सम्मान निधि योजना जैसी कई किसान कल्याणकारी योजनाएं चलाई जाती हैं।

अब नए बजट में सरकार की ओर से किसानों के लिए कुछ कल्याणकारी घोषणाएं की जाने वाली हैं| जैसा कि एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है, सरकार आगामी बजट में किसानों को उर्वरकों पर सब्सिडी देने के बारे में सोच रही है। निश्चित तौर पर अगर केंद्र सरकार इस बारे में सोचती है तो किसानों को बड़ी राहत मिलेगी।

उम्मीद है कि नए बजट में फर्टिलाइजर सब्सिडी को लेकर जल्द ही बड़ा फैसला लिया जाएगा। सरकार फर्टिलाइजर के लिए 2.25 लाख करोड़ रुपये की सब्सिडी देने का फैसला करेगी और उसी के मुताबिक सरकार ने एक प्रस्ताव भी पेश किया है| हम आपको बताना चाहते हैं कि पिछले एक साल में यूरिया की कीमतों में 135% की बढ़ोतरी हुई है।

डीएपी की कीमतों में भी 65 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है ऐसे में वित्त मंत्रालय को उर्वरक मंत्रालय के जरिए सब्सिडी देने की सिफारिश की जा रही है| इस बीच, यह अनुमान लगाया गया है कि बजट में उर्वरकों पर सब्सिडी की घोषणा की जाएगी। गैस की कीमतों में बढ़ोतरी से फर्टिलाइजर कंपनियों की लागत बढ़ गई है। इसके चलते सरकार कंपनियों को राहत देने के लिए सब्सिडी की घोषणा करेगी। बताया जा रहा है कि फर्टिलाइजर मिनिस्ट्री ने सब्सिडी बढ़ाने पर चर्चा की है।

उर्वरक मंत्रालय ने कहा है कि अगले कारोबारी साल में उर्वरकों पर और अधिक सब्सिडी दी जाएगी। बजट से पहले, केंद्रीय वित्त मंत्रालय केंद्रीय बजट के संबंध में हितधारकों के साथ संवाद कर रहा है। इसके तहत उर्वरक मंत्रालय ने उर्वरक के लिए 2.25 लाख करोड़ रुपये की सब्सिडी मांगी है|

संबंधित खबर में खाद के लिए सब्सिडी मिलने से निश्चित तौर पर किसानों को फायदा होगा। इससे किसानों को कम कीमत पर खाद उपलब्ध हो सकेगी। इससे खाद की लागत पर अंकुश लगेगा। निश्चित तौर पर अब सबकी निगाह इस बात पर है कि आने वाले बजट में इस बारे में क्या फैसला लिया जाता है|

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *