Cauliflower Farming : हाल ही में हमारे देश में बड़े पैमाने पर सब्जी की खेती (Vegetable Farming) शुरू की गई है। हमारे राज्य में किसान (Farmer) भी बड़े पैमाने पर सब्जियों की खेती कर रहे हैं। खासकर कम लागत और कम दिनों में कटाई के लिए तैयार सब्जियों की फसलों की खेती से किसानों की अच्छी खासी कमाई हो रही है।

सब्जी की फसल (Vegetable Crop) कम दिनों में और कम कीमत पर तैयार होने के कारण जानकार लोग भी किसानों को सब्जी की खेती की सलाह दे रहे हैं। अब समय बीतने के साथ कृषि में बदलाव आया है और मौसमी सब्जियों का भी अब चौबीसों घंटे पॉलीहाउस फार्मिंग (Polyhouse Farming) की मदद से उत्पादन किया जा रहा है। ऐसे में सब्जी की खेती किसानों के लिए फायदेमंद साबित हो रही है। दोस्तों, फूलगोभी की फसल भी ऐसी ही एक प्रमुख सब्जी फसल है। भारत में इस फसल की खेती साल भर की जाती है।

हमारे राज्य में किसान भी बड़े पैमाने पर फूलगोभी की खेती कर रहे हैं। दिलचस्प बात यह है कि, कम लागत और कम दिनों में पैदा होने वाली फूलगोभी की फसल से किसानों को अच्छा पैसा मिलता है। ऐसे में जानकार किसान भाइयों को फूलगोभी (Cauliflower Crop) लगाने की सलाह देते हैं. जानकारों के अनुसार फूलगोभी की खेती से किसानों को निश्चित रूप से अच्छी आमदनी होगी।

लेकिन इसके लिए किसानों को फूलगोभी की उन्नत किस्में (Cauliflower Variety) लगानी चाहिए। ऐसे में आज की खबर उन सभी किसानों के लिए उपयोगी होगी जो फूलगोभी की खेती कर रहे हैं। दोस्तों ,आज हम फूलगोभी की कुछ उन्नत किस्मों के बारे में जानने जा रहे हैं जिनकी खेती भारत में की जा रही है। तो, दोस्तों बिना समय बर्बाद किए आइए जानते हैं फूलगोभी की उन्नत किस्मों के बारे में।

फूलगोभी की किस्में जो आग प्रतिरोधी हैं –

पूसा दीपाली, अर्ली वर्जिन, अर्ली पटना, पंत गोबी 2, पंत गोबी 3 पूसा कार्तिक, पूसा अर्ली सिंथेटिक, पटना एजीटी, सिलेक्शन 327 और सिलेक्शन 328।

समय पर बोई जाने वाली फूलगोभी की किस्में-

पंत शुभ्रा, इंप्रूव जापानी, हिसार 114, एस-1, नरेंद्र गोबी 1, पंजाब ज्वाइंट, अर्ली स्नोबॉल, पूसा हाइब्रिड 2, पूसा अघानी और पटना मीडियम
पासा में रोपित फूलगोभी की किस्में –

स्नोबॉल 16, पूसा स्नोबॉल 1, पूसा स्नोबॉल 2, पूसा के 1, दानिया, स्नोइंग, पूसा सिंथेटिक, विश्व भारती, बनारसी मैगी, संयुक्त स्नोबॉल

साथियों, किसानों के लिए फूलगोभी की उन्नत किस्मों का चयन अपनी जमीन के साथ-साथ अपनी जलवायु के अनुसार करना अनिवार्य होगा। किसान इसके लिए किसी कृषि विशेषज्ञ से सलाह जरूर ले सकते हैं। फूलगोभी की खेती से अच्छी आय प्राप्त करने के लिए किसानों को फूलगोभी की उन्नत किस्मों की खेती करनी चाहिए। इसके अलावा फूलगोभी की फसल का उचित पोषण प्रबंधन मृदा परीक्षण द्वारा किया जाना चाहिए। उन्नत किस्मों की खेती से निश्चित रूप से किसानों को अच्छी आय (Income ) होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *