Panjabrao Dakh : इस समय महाराष्ट्र में मौसम शुष्क है और कृषि कार्य ने गति पकड़ ली है। हालांकि इसके बावजूद किसानों ने जानकारी दी है कि, कल राज्य के कुछ हिस्सों में हल्की मौसम बारिश हुई है|

लेकिन यह बारिश स्थानीय माहौल बना रही है और ढह रही है। कुल मिलाकर राज्य में इस समय मौसम शुष्क बना हुआ है और ठंड का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है| इससे खरीफ सीजन की फसलों की कटाई जोरों पर चल रही है।

साथ ही रबी सीजन (rabi season) के लिए आवश्यक पूर्व-खेती कार्य भी जोरों पर चल रहा है। इस बीच, पूरे महाराष्ट्र में जाने-माने व्यक्तित्व पंजाबराव दख का मौसम पूर्वानुमान भी उनके मौसम पूर्वानुमान के लिए सामने आया है।

पंजाबराव दख द्वारा पूर्वानुमानित इसके बेहतर मौसम पूर्वानुमान ( Panjabrao Dakh Havaman Andaj) के अनुसार, राज्य में आने वाले पूरे सप्ताह मौसम शुष्क बना रहेगा। निश्चित तौर पर इससे किसानों को राहत मिलेगी।

राज्य में मौसम शुष्क होने के साथ ही सोयाबीन के साथ मक्का और अन्य खरीफ सीजन की फसलों की कटाई भी जोर पकड़ रही है|

पंजाबराव दख ने किसानों को रबी सीजन की फसलों की बुवाई के लिए तैयार रहने की सलाह दी है। पंजाबराव दख के अनुसार किसान जल्द से जल्द गेहूं और चने की फसल बोएं।

अगर किसान 20 अक्टूबर से 20 नवंबर तक चने की फसल बोते हैं, तो उन्हें अधिक फसल मिलेगी। इससे किसानों की आय में काफी वृद्धि होगी। इसके अलावा गेहूं की समय से बुवाई के लिए किसान 1 नवंबर से 15 नवंबर के बीच गेहूं की बुवाई (wheat sowing) करें।

पंजाबराव के मुताबिक अगले सप्ताह राज्य में मौसम शुष्क रहेगा और ठंड का प्रकोप बढ़ेगा। इससे खरीफ सीजन की फसल कटाई और रबी सीजन की फसल की बुवाई के लिए अनुकूल माहौल रहेगा।

जानकारों ने बताया है कि, बढ़ती ठंड से रबी सीजन की फसलों को काफी फायदा होगा और इससे प्याज की फसल को भी फायदा होगा|

दरअसल, इस मानसून (monsoon) में संतोषजनक बारिश हुई है और वापसी की बारिश भी अच्छी हुई है, इसलिए किसानों को रबी सीजन के लिए पानी की कमी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

इस बीच खरीफ सीजन में भारी बारिश और वापसी की बारिश से किसानों को भारी नुकसान हुआ है, लेकिन अब तस्वीर यह है कि, खरीफ सीजन में बारिश से किसानों को रबी सीजन से ज्यादा आमदनी होगी|

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *